व्रत एवं त्यौहार

Kerala का सबसे बड़ा Temple Festival - Thrissur Pooram (त्रिशूर पूरम) 

त्रिशूर पूरम Thrissur Pooram Festival केरल के त्रिशूर जिले की संस्कृति और परंपरा का एक उत्सव है, जो वडक्कुमनाथन मंदिर में आयोजित किया जाता है। यह उत्सव वडक्कुनाथन मंदिर पर केंद्रित है जहाँ भगवान शिव को श्रद्धा अर्पित करने के लिये जुलूस भेजा जाता है। अन्य व्रत एवं त्योहारों की जानकारी - Bharat Mata

करगा महोत्सव - बैंगलोर |Festival of India - Bharat Mata

करगा महोत्सव, बैंगलोर का एक प्रमुख त्योहार है जो चैत्र मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन मनाया जाता है। करगा, देवी द्रौपदी को समर्पित एक वार्षिक उत्सव है, जो उन्हें नारी शक्ति का प्रतिनिधित्व करने वाली आदर्श महिला के रूप में सम्मानित करता है।

Guru Nanak Gurpurab | कैसे हुई सिख धर्म में लंगर की शुरुआत | Sacha Sauda

गुरु नानक जयंती, जिसे गुरपुरब के नाम से भी जाना जाता है। सिखों द्वारा समस्त संसार में मनाया जाने वाला एक महत्वपूर्ण व पवित्र त्योहार है। यह गुरु नानक देव जी की जयंती को को चिह्नित करता है।

अधिक मास को क्यों कहा जाता है पुरुषोत्तम और मलमास क्या है इसकी मान्यताएं| Malmaas | Bharat Mata

भारतीय हिन्दू पंचांग सूर्य मास और चन्द्र मास की गणना के अनुसार चलता है। अधिक मास चन्द्र वर्ष का एक अतिरिक्त भाग है जो हर 32 माह 16 दिन और 8 घन्टों के अंतर से आता है।

सावन मास का आध्यात्मिक महत्व | Sawan Mash Ka Mahatva | importance of Sawan Month in Hinduism

भगवान शिव शंकर को सावन माह अत्यंत प्रिय है और इसी कारण से सावन माह को भारतीय जनमानस में श्रद्धा एवं आनंदमय माना जाता है।

होलिकोत्सव - होलिका दहन एवं होली की कहानी | वसंत ऋतु की सन्देश वाहक | Holi Story|Bharat Mata

होली से सम्बंधित कई ऐतिहासिक एवं पौराणिक कथाएँ हैं। मान्यता है कि प्राचीन काल में हिरण्यकश्यप नामक बलशाली असुर था.. जो भगवान विष्णु का घोर विरोधी था।

रक्षा बंधन की कथाएं | माँ लक्ष्मी राजा बलि राखी कथा | द्रौपदी श्री कृष्ण राखी कथा। Rakshabandhan

रक्षाबंधन की एक कहानी भगवान विष्णु के वामन अवतार से भी जुड़ी है। इस कहानी के अनुसार दानवराज बलि 100 यज्ञ पूर्ण कर देवराज इंद्र से इंद्रासन छीनना चाहते थे।

जानिए सावन महीना भगवान शिव को क्यों है प्रिय | श्रावण मास का महत्व | Lord Shiv and Sawan Mystery

जानिए सावन महीना भगवान शिव को क्यों है प्रिय | श्रावण मास का महत्व | Lord Shiv and Sawan Mystery

Vijay Dashami : जब श्री राम ने माँ दुर्गा का आह्वान कर विजयी वरदान प्राप्त किया | Bharat Mata

भारतवर्ष में इस त्यौहार को मनाने के विभिन्न रीति-रिवाज हैं किन्तु अंततः इन सभी का मूल रूप एवं सन्देश एक ही है – सत्य की विजय

रामनवमी की हार्दिक शुभकामनायें | Happy Ram Navami | Bharat Mata

रामनवमी की हार्दिक शुभकामनायें | Happy Ram Navami | Bharat Mata

माँ दुर्गा की सप्तम स्वरूप माँ कालरात्रि का भव्य अवतरण | Maa Kalratri | Bharat Mata

नवरात्रि में सप्तमी पर माँ दुर्गा की सप्तम स्वरूपा माँ कालरात्रि की आराधना की जाती है। माँ कालरात्रि की पूजा-अर्चना करने से साधक पाप-मुक्त हो जाता है तथा शत्रुओं का नाश होता है, तेज में वृद्धि होती है

माँ दुर्गा की पंचम स्वरूपा माँ स्कंदमाता का भव्य अवतरण | Maa Skandmata | Bharat Mata

माँ स्कंदमाता माँ दुर्गा के नवरूपों में पंचम स्वरूपा हैं। माँ स्कंदमाता सूर्यमंडल की अधिष्ठात्री देवी हैं जिनकी आराधना से उपासक को अलौकिक तेज की प्राप्ति होती है।